6 दिसंबर 2009

चीनी घुसपेठ पर एक कार्टून ..............


5 टिप्‍पणियां:

kase kahun?by kavita. ने कहा…

sahi tasveer.

ज्ञानदत्त G.D. Pandey ने कहा…

टेक्टलेस रीट्रीट!

राकेश 'सोहम' ने कहा…

जी हाँ, हम अपना दायित्व ऐसे ही जाया करने देते हैं . बस नज़र नज़र का फेर है.

अर्ज़ किया है कि -

समस्याओं के
निराकरण में
उलटे घड़े की
याद आती है,
नेताओं को
क्या कहें
उनके तकले में
नहीं समाती है .

[] राकेश 'सोहम'

शरद कोकास ने कहा…

baDHiyaa hai

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

सटीक!