20 मई 2008

cartoon doobeyji


hai ! mehangai

7 टिप्‍पणियां:

छत्तीसगढिया .. Sanjeeva Tiwari ने कहा…

लाजवाब

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा…

अच्छा कार्टून है ...किंतु व्यंग्य में चटखीलापन का न होना खल रहा है। हाँ यह सच्चाई निश्चित ही असाधारण व्यथा है आम मानस के लिये, जिसे प्रस्तुत करने के लिये आप बधाई के पात्र हैं।

***राजीव रंजन प्रसाद

अनूप शुक्ल ने कहा…

सुन्दर! ज्यादा प्रतिक्रिया पाने के लिये वर्ड वेरीफ़िकशन हटायें। सब लोग हम लोगों की तरह मेहनती नहीं होते।

Dr.Parveen Chopra ने कहा…

बढिया कार्टून बनाया है....अच्छा लगा। हाय...महंगाई...महंगाई...महंगाई ..तू कहां से आई, तुझे क्यों मौत न आई....गाना याद आ रहा है।

Udan Tashtari ने कहा…

बिल्कुल सही!

कामोद Kaamod ने कहा…

बहुत सही कहा जी.

yaksh ने कहा…

बहुत बढिया...