1 जनवरी 2009

नए साल के जश्न पर कार्टूनों की सीरीज़ -----देखें पाँच कार्टून


4 टिप्‍पणियां:

गिरीश बिल्लोरे "मुकुल" ने कहा…

मत झुलसाना न भरमाना
हर घर में खुशियाँ दे आना
आए तो स्वागत नवल वर्ष
अबके आँसू मत दे जाना !
ओ नवल वर्ष ओ धवल वर्ष
शिशु सा आकर्षण ले आना

COMMON MAN ने कहा…

देखते ही हंसी निकल गयी.

Dr. Vijay Tiwari "Kislay" ने कहा…

शासन और अनुशासन की कमियों पर प्रहार
करते एक और अच्छे व्यंग्य के लिए बधाई
आपका
विजय

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत सही, दुबे जी.

नववर्ष की मंगलकामनाऐं.