1 जनवरी 2009

नए साल के जश्न पर कार्टूनों की सीरीज़ -----देखें पाँच कार्टून


4 टिप्‍पणियां:

गिरीश बिल्लोरे मुकुल ने कहा…

मत झुलसाना न भरमाना
हर घर में खुशियाँ दे आना
आए तो स्वागत नवल वर्ष
अबके आँसू मत दे जाना !
ओ नवल वर्ष ओ धवल वर्ष
शिशु सा आकर्षण ले आना

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

देखते ही हंसी निकल गयी.

विजय तिवारी " किसलय " ने कहा…

शासन और अनुशासन की कमियों पर प्रहार
करते एक और अच्छे व्यंग्य के लिए बधाई
आपका
विजय

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत सही, दुबे जी.

नववर्ष की मंगलकामनाऐं.