26 मई 2008

cartoon doobeyji


cheer leaders

5 टिप्‍पणियां:

बाल किशन ने कहा…

हाँ ठीक ही है.
जनता भी खुश, नेता भी खुश. और चमचों की तो पूछिये मत.
कुल मिलाकर ये की लोकतंत्र मे बहार आ जायेगी.

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा…

सच है बदनामी का डर भी नहीं.. :)

***राजीव रंजन प्रसाद

सुनीता शानू ने कहा…

अच्छे चर्चे है आजकल चीयर गर्ल के...:)
भाजी वाला कार्टून भी देखा था जो कह रहा था एक ठौ चीयर गर्ल को बुलाई लें भाजी नाही बिक रही हैं..

yaksh ने कहा…

पानी गायब हुआ तो १० १२ रुपये में बिकने लगा। अब लोगो के चेहरे से खुशियाँ गायब हुई ,तो किराए की चियर गर्ल्स में क्या बुराई? बढिया कार्टून है।

Udan Tashtari ने कहा…

:)


बढ़िया है, बुलवा ही लिजिये.