24 मार्च 2010

पंछियों के लिए गर्मी मैं रखो पानी ................एक कार्टून


10 टिप्‍पणियां:

IRFAN ने कहा…

wah doobeji.aapne achchaa sandesh diya aur yeh bhi bata diya ki paani panchhiyon ke liye kyon nahin rakha ja raha hai...
Good one.

Jandunia ने कहा…

वैसे तो आपके कार्टून पर हंसने को मन कर रहा है लेकिन इस कार्टून के माध्यम से आपने जल की समस्या की तरफ भी इशारा किया है तो फिलहाल तो मन हंसने से ज्यादा सोचने पर मजबूर हो गया है।

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

पानी की भी लूट

इतनी ज्‍यादा अच्‍छी नहीं है छूट।

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

यदि जनसंख्या रोकने को कानून नहीं लाया गया तो इससे बुरा हाल होगा.

काजल कुमार Kajal Kumar ने कहा…

अब ये बेचारा भी करे तो क्या करे, जिन्हें रखा था इसे पानी पिलाने के लिए वो इसका खून चूसने पर आमादा है...ये तुम्हारा ही पानी न पीये तो कहां जाए क्या करे...

Vivek Rastogi ने कहा…

बेचारा पक्षी, और बेचारा आदमी,

करे तो दोनों क्या करें, यही समझ नहीं पा रहे हैं।

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey ने कहा…

तीनो ही सबस्टिंसेस लेवल के प्राणी हैं। बराबर के!

sudhakar soni,cartoonist ने कहा…

behtarin cartoon doobeji

cartoonist ABHISHEK ने कहा…

achchha hai........
paani bachao
dhartee bachaao

राकेश 'सोहम' ने कहा…

हम पंछी एक डाल के . पानी सब के लिए ज़रूरी . सटीक .