4 जनवरी 2010

एक कार्टून .............


7 टिप्‍पणियां:

बवाल ने कहा…

एकदम दुरुस्त तंज़

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

बिल्कुल सही सुझाव!

नए वर्ष पर मधु-मुस्कान खिलानेवाली शुभकामनाएँ!

सही संयुक्ताक्षर "श्रृ" या "शृ"

FONT लिखने के चौबीस ढंग

संपादक : "सरस पायस"

Udan Tashtari ने कहा…

सटीक सुझाव!!


’सकारात्मक सोच के साथ हिन्दी एवं हिन्दी चिट्ठाकारी के प्रचार एवं प्रसार में योगदान दें.’

-त्रुटियों की तरफ ध्यान दिलाना जरुरी है किन्तु प्रोत्साहन उससे भी अधिक जरुरी है.

नोबल पुरुस्कार विजेता एन्टोने फ्रान्स का कहना था कि '९०% सीख प्रोत्साहान देता है.'

कृपया सह-चिट्ठाकारों को प्रोत्साहित करने में न हिचकिचायें.

-सादर,
समीर लाल ’समीर’

Kajal Kumar ने कहा…

जिसकी जिम्मेदारी उसे भी गिरा कर सज़ा पूरी...

परमजीत बाली ने कहा…

सही सुझाव!!

संजय बेंगाणी ने कहा…

वाह! क्या बात है. क्या सुझाव दिये हैं....बहुत खूब.

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

मैं भी आपके साथ हूं. अब कुत्तों से सुरक्षा, रैश ड्राईवरों से सुरक्षा, जेनरेटर के धुय़ें से सुरक्षा, पडो़सी द्वारा कूड़ा आगे सरकाने से सुरक्षा सप्ताह इत्यादि की भी आवश्यकता है