25 जून 2009

मानसून पर एक कार्टून ............


10 टिप्‍पणियां:

अरुण पालीवाल ,राजसमन्द ने कहा…

वाह वाह>>>>>>> , कम सून भाई>>>>>>>>>>>>>

परमजीत बाली ने कहा…

बहुत बढिया!!

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत मस्त!!

बालसुब्रमण्यम ने कहा…

वाह! एक दम सटीक!

काजल कुमार Kajal Kumar ने कहा…

कहाँ मानेगा...सूना सूना ही रखने का विचार जो है इसका

"मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " ने कहा…

Sun rahen hai sabhee doobe ji
tippani sahaj barasaa denge haa haa hee hooo ho ho hoo

प्रसन्न वदन चतुर्वेदी ने कहा…

कार्टून और आप का ब्लाग अच्छा लगा...बहुत बहुत बधाई....
एक नई शुरुआत की है-समकालीन ग़ज़ल पत्रिका और बनारस के कवि/शायर के रूप में...जरूर देखें..आप के विचारों का इन्तज़ार रहेगा....

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

मैं भी पालीवाल जी से सहमत.

वन्दना अवस्थी दुबे ने कहा…

कुछ दिनों पहले मेरी मुलाकात आपसे अपने ’किस्सा-कहानी.ब्लौग पर हुई थी. उस दिन तो आपके ब्लौग पर न आ सकी, लेकिन आज सुबह जब नई दुनिया पढ रही तो आपका कार्टून दिखाई दिया. मज़ा आ गया. शानदार कार्टून हैं आपके.

cartoonist anurag ने कहा…

hamesha ki tarah ek behtareen cartoon...
mansoon par maine bhi ek cartoon banaya hai...jaroor dekhiyega...