8 फ़रवरी 2009


1 टिप्पणी:

गिरीश बिल्लोरे मुकुल ने कहा…

गुरु कहाँ कहाँ तिपियाऊ जी
सारी पोस्ट धाँसू टाइप
की हैं