5 अगस्त 2008


happy NAAG PANCHAMI to all the bloggers

7 टिप्‍पणियां:

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा…

राजेश जी..


इस कार्टून का कोई जवाब नहीं। यह आपकी चिर सामयिक रचना है...इतना करारा व्यंग्य है जो एक नजर देख कर ही हास्य से सराबोर करने वाले हर मन को ठहर कर सोचने पर मजबूर अवश्य करेगा..आपकी इस विधा को नमन करते हुए आपकी कल्पना शीलता की भूरि भूरि प्रशंसा करता हूँ..


***राजीव रंजन प्रसाद

www.rajeevnhpc.blogspot.com
www.kuhukakona.blogspot.com

राज भाटिय़ा ने कहा…

बहुत खुब, बाकी राजीव जी ने कह दिया हे, धन्यवाद

Udan Tashtari ने कहा…

हा हा!! बहुत खूब!

anchal ने कहा…

Wow! mamaji its really funny. ha ha ha......

mayur ने कहा…

One Picture Is Worth Ten Thousand Words.

IS CARTOON KA KOI JAWAB NAHI HAI. SAPERE KA EXPRESSION LAJAWAB HAI.

a to z anil ने कहा…

happy nagmantriji this cartoon should be send to all mantris all over india all the festivals are not celebrated in the favour of mantris
good job done

Triambak Sharma ने कहा…

bhai,
aapka cartoon NAAG log naa dekh len..warna aap par Man Hani ka mukadama..ho jayega..
ha ha..